Subscribe Daily Horoscope

Congratulation: You successfully subscribe Daily Horoscope.
 

श्री यन्त्र

श्री यन्त्र

‘श्री यंत्र’ देवी लक्ष्‍मी, सरस्‍वती, धन, संपदा और संपन्‍नता का प्रतीक है। श्री यंत्र में पूरा ब्रह्माण्‍ड समाया हुआ है। इसकी साधना से धर्म, मोक्ष, अर्थ, काम की प्राप्‍ति होती है।

डिलीवरी: 5-8 दिनों में डिलीवरी
मुफ़्त शिपिंग: पूरे भारत में
फ़ोन पर ख़रीदें: +91 8882 540 540
अभिमंत्रित: फ्री अभिमन्त्रण आचार्य रमन जी द्वारा

विवरण

धातु:पंच धातु
साइज़:3x3 inch
भार:~10 Gm
आकृति:चौकोर
अभिमंत्रित:पण्डित सूरज शास्त्री

‘श्री यंत्र’ देवी लक्ष्‍मी, सरस्‍वती, धन, संपदा और संपन्‍नता का प्रतीक है। श्री यंत्र में पूरा ब्रह्माण्‍ड समाया हुआ है। इसकी साधना से धर्म, मोक्ष, अर्थ, काम की प्राप्‍ति होती है।

क्‍या है इस यंत्र में

नवचक्रों से बने इस यंत्र में चार शिव चक्र, पांच शक्ति चक्र होते हैं। इस प्रकार इस यंत्र में 43 त्रिकोण, 28 मर्म स्थान, 24 संधियां बनती हैं। तीन रेखा के मिलन स्थल को मर्म और दो रेखाओं के मिलन स्थल को संधि कहा जाता है।

श्री यन्त्र के लाभ

  • श्री यंत्र का प्रभाव इतना शक्‍तिशाली है कि यदि इसको अभिमंत्रित कर इसकी स्‍थापना की जाए तो अवश्‍य ही वहां संपन्‍नता की वर्षा होती है।
  • ऊर्जा का भंडार माने जाने वाले इस यंत्र को सभी यंत्रों का राजा कहा जाता है।
  • श्री यंत्र की स्‍थापना से घर में नकारात्‍मक ऊर्जा नहीं टिक पाती और बुरी शक्‍तियों का नाश होता है।
  • ध्‍यान रहे, कभी भी घर में खंडित श्री यंत्र न रखें। यह दुर्भाग्‍य को लाता है।

हमसे क्यों लें

श्री यंत्र को हमारे पंडितजी द्वारा अभिमंत्रित कर के आपके पास भेजा जाएगा जिससे आपको शीघ्र अति शीघ्र इसका पूर्ण लाभ मिल सके।

 

Reviews

Based on 0 reviews

Write a review