Subscribe Daily Horoscope

Congratulation: You successfully subscribe Daily Horoscope.
 

पुखराज रत्‍न की अंगूठी

पुखराज रत्‍न की अंगूठी

देवताओं के गुरु बृहस्‍पति का रत्‍न है पुखराज। बृहस्‍पति देव मीन राशि के अधिपति ग्रह हैं इसलिए मीन राशि के लोगों को पुखराज रत्‍न की अंगूठी धारण करनी चाहिए। 

 
डिलीवरी: 3-4 दिनों में डिलीवरी
मुफ़्त शिपिंग: पूरे भारत में
फ़ोन पर ख़रीदें: +91 777 5038 777
अभिमंत्रित: फ्री अभिमन्त्रण पंडित सूरज शास्त्री जी द्वारा

विवरण

रत्‍न:5.25 रत्‍ती
सर्टिफिकेट:VEGGA जयपुर
धातु:पंचधातु
वजन:3.5 से 5 ग्राम
माप:फ्री साइज (Adjustable)

देवताओं के गुरु बृहस्‍पति का रत्‍न है पुखराज। बृहस्‍पति देव मीन राशि के अधिपति ग्रह हैं इसलिए मीन राशि के लोगों को पुखराज रत्‍न की अंगूठी धारण करनी चाहिए। 

पुखराज रत्‍न की अंगूठी के लाभ 

  • जिन कन्याओं के विवाह में देरी होती है उन्हें पुखराज पहनने से लाभ होता है तथा उनका वैवाहिक जीवन सुखद होता है।
  • यह रत्न धारण करने से धार्मिक कार्य में आपकी रूचि बढ़ती है। मान-सम्मान में वृद्धि होती हे।
  • यह रत्न धारण करने से बेहतर निर्णय लेने की क्षमता में वृद्धि होती है।
  • पेट से संबंधित बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए पुखराज रत्न धारण करना लाभकारी होता है।
  • बौद्धिक क्षमता के विकास के लिए पुखराज धारण किया जाता है।
  • कानून से संबंधित काम करने वाले लोगों को पुखराज रत्न धारण करने से लाभ होता है।
  • पुत्र की कामना के लिए भी इस रत्‍न की अंगूठी को धारण किया जा सकता है।
  • धन की कमी को दूर करने वाला पुखराज रत्‍न आपके वैभव में भी वृद्धि करता है।

कौन करे धारण 

मीन राशि के जातक इस अभिमंत्रित पुखराज की अंगूठी को धारण कर सकते हैं।

कौन होते हैं मीन राशि के जातक

अगर आपका जन्‍म 21 फरवरी से 20 मार्च के बीच हुआ हो या आपका नाम दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची में से किसी एक अक्षर से शुरू होता है तो आपकी राशि मीन राशि है।

हमसे क्‍यों लें 

इस अंगूठी को आचार्य जी ने गुरू बृहस्‍पति के मंत्रों द्वारा अभिमंत्रित किया है जिससे यह आपको जल्‍द ही शुभ फल दे। इस अंगूठी के साथ सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा जो इस रत्‍न के ओरिजनल होने का प्रमाण है।

इस अंगूठी से संबंधित किसी अन्‍य जानकारी के लिए 8285282851 पर संपर्क करें और अपने लिए इस अंगूठी को मंगवाने में देर न करें।

 

Reviews

Based on 1 reviews

Write a review
 

प्रभावशाली रत्न अँगूठी

दीनानाथ शर्मा

गुरु ब्रहस्पति की पूजा करने के लिए मुझे पंडितजी ने कहा था। मैं अपने परिवार सहित पुष्कर भी गया और वहाँ से आने के बाद से ये पुखराज से जड़ी अँगूठी धारण की। आज मेरे परिवार में सुख और समृद्धि की वरद्धि हुई है। धन्यवाद astrovidhi