Subscribe Daily Horoscope

Congratulation: You successfully subscribe Daily Horoscope.
 

ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड

ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड

पिरामिड का अर्थ शक्ति एवं ऊर्जा से है। यह पिरामिड ब्रह्मांड की ऊर्जा को आकर्षित करते है। ग्रीक भाषा में पायर शब्द का अर्थ है ‘अग्नि’ और मिड का अर्थ है ‘केंद्र’ अर्थात त्रिभुजाकार आकृति जिसमे अग्नि ऊर्जा का केंद्र है। अग्नि एक प्रकार की ऊर्जा ही होती है। ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड मनुष्य में चेतना जागृत करता है। 

 
डिलीवरी: 3-4 दिनों में डिलीवरी
मुफ़्त शिपिंग: पूरे भारत में
फ़ोन पर ख़रीदें: +91 777 5038 777
अभिमंत्रित: फ्री अभिमन्त्रण पंडित सूरज शास्त्री जी द्वारा

पिरामिड का अर्थ शक्ति एवं ऊर्जा से है। यह पिरामिड ब्रह्मांड की ऊर्जा को आकर्षित करते है। ग्रीक भाषा में पायर शब्द का अर्थ है ‘अग्नि’ और मिड का अर्थ है ‘केंद्र’ अर्थात त्रिभुजाकार आकृति जिसमे अग्नि ऊर्जा का केंद्र है। अग्नि एक प्रकार की ऊर्जा ही होती है। ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड मनुष्य में चेतना जागृत करता है। 

जिस घर में ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड होता है उस घर में आवास करने वाला जातक दीर्घायु, निरोगी और अच्छे धार्मिक विचारों वाला तथा सुखद जीवन व्यतीत करने वाला होता है। अपने घर में ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड की स्थापना करने से इन्द्रियों से सम्बंधित दोष पूर्णतः दूर हो जाते है। सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति होती है तथा मन में धार्मिक विचार उत्पन्न होते है।

आइए जानते है वास्तु पिरामिड के लाभों के बारे में

  • इस पिरामिड की स्थापना से या इसके स्पर्श से इन्द्रियों से सम्बंधित दोष दूर होते है।
  • धर्म और आध्यात्म में वृद्धि होती है। मन ईश्वर भक्ति में विलीन हो जाता है।
  • एकाग्रता और स्मरणशक्ति में वृद्धि देखने को मिलती है।
  • शत्रु नाश के लिए इस पिरामिड की स्थापना अपने घर में अवश्य करनी चाहिए।
  • बच्चों की बुद्धि के विकास के लिए यह पिरामिड बहुत ही लाभकारी होते है, इसके प्रभाव से उनकी बुद्धि का विकास होता है और शीघ्र पढ़ा हुआ याद हो जाता है।
  • इसके प्रभाव से घर का वातावरण तरोताजा तथा खुशनुमा बना रहता है।
  • इस पिरामिड के प्रभाव से मानसिक शांति मिलती है, घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती।
  • इस पिरामिड के प्रभाव से शरीर में चुस्ती फुर्ती आती है तथा आलस्य दूर होता है, धन-धान्य की घर में बरकत होती है।
  • यह पिरामिड काले रंग का होने के कारण इसका सम्बन्ध शनि ग्रह से होता है।
  • इस पिरामिड को घर या कार्यक्षेत्र में स्थापित करने के बाद बुरी नजर से बचाव होता है, किसी प्रकार का जादू-टोना, ऊपरी हवा, भूत-प्रेत आदि से जातक का बचाव होता है। 

क्या है इसकी खासियत

डर को खत्म कर साहस और आत्मरक्षा के लिए यह ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड बहुत ही ख़ास है। शनिवार के दिन या किसी शुभ मुहूर्त में इस पिरामिड को घर के मंदिर या पवित्र जगह स्थापित करने से आर्थिक स्थिति मजबूत होती है तथा, वास्तु दोष से मुक्ति मिलती है। शारीरिक संपन्नता देखने को मिलती है। घर का वातावरण तरोताजा तथा खुशनुमा बना रहता है।

हमसे क्यों लें 

इस ऑर्गेनिक वास्तु पिरामिड को हमारे अनुभवी ज्योतिषों द्वारा अभिमंत्रित किया गया है, जिससे आपको जल्दी ही शुभ फल मिलता है तथा वास्तु दोष पूर्णतः ख़त्म हो जाता है, आप सुखी जीवन व्यतीत करते है।

 

Reviews

Based on 0 reviews

Write a review