Subscribe Daily Horoscope

Congratulation: You successfully subscribe Daily Horoscope.
 

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र

दरिद्रता से परेशान लोगों की किस्‍मत को इस यंत्र से बदला जाdr सकता है। मां लक्ष्‍मी से संबंधित होने के कारण इस यंत्र को धन से जुड़ी कामनाओं के लिए प्रयोग किया जाता है।

 
डिलीवरी: 3-4 दिनों में डिलीवरी
मुफ़्त शिपिंग: पूरे भारत में
फ़ोन पर ख़रीदें: +91 777 5038 777
अभिमंत्रित: फ्री अभिमन्त्रण पंडित सूरज शास्त्री जी द्वारा

विवरण

धातु:पंच धातु
साइज़:3x3 inch
भार:~10 Gm
आकृति:चौकोर
अभिमंत्रित:पण्डित सूरज शास्त्री

दरिद्रता से परेशान लोगों की किस्‍मत को इस यंत्र से बदला जाdr सकता है। मां लक्ष्‍मी से संबंधित होने के कारण इस यंत्र को धन से जुड़ी कामनाओं के लिए प्रयोग किया जाता है।

श्‍वेत हाथियों के द्वारा स्‍वर्ण कलश से स्‍नान करती हुई कमलासन पर विराजमान देवी लक्ष्‍मी इस यंत्र में निवास करती हैं। मां लक्ष्‍मी का यह स्‍वरूप अत्‍यंत शुभ माना जाता है।

इस यंत्र के बारे में पुराणों में कहा गया है कि घर या दुकान में इसकी स्‍थापना करने से देवी कमला की प्राप्‍ति होती है।

महालक्ष्‍मी यंत्र निर्माण

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र में षटकोण वृत अष्‍टदल एवं भूपुर की संरचना होती है। इस यंत्र की संरचना विचित्र है। इस यंत्र की स्‍थापना से मां लक्ष्‍मी का आशीर्वाद प्राप्‍त होता है एवं लक्ष्‍मी का स्‍थाई निवास होता है।

घर, कार्यस्‍थल या अपने पास श्री महालक्ष्‍मी यंत्र रखने से आर्थिक संकट, कर्ज दूर होते हैं और व्‍यक्‍ति के मान-सम्‍मान में वृद्धि होती है।

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र के लाभ

  • श्री महालक्ष्‍मी का यह चमत्‍कारिक यंत्र धन से संबंधित सभी प्रकार की समस्‍याएं दूर होती हैं।
  • अगर कोई व्‍यक्‍ति कर्ज के नीचे दब गया है और अब उससे निकल पाना उसे मुश्किल लग रहा है तो उसे अपने घर या ऑफिस में श्री महालक्ष्‍मी यंत्र की स्‍थापना करनी चाहिए। यंत्र की स्‍थापना के बाद रोज़ इसकी पूजा करें।
  • धन के साथ-साथ ये श्री महालक्ष्‍मी यंत्र स्‍वास्‍थ्‍य भी प्रदान करता है। अगर आपके घर में कोई व्‍यक्‍ति लंबे समय से बीमार है और आपका सारा पैसा उसके इलाज पर खर्च हो रहा है तो इस यंत्र की स्‍थापना उस रोगी व्‍यक्‍ति के कमरे में करें। धीरे-धीरे उसके स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार आने लगेगा।

कब करें स्‍थापना

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र की स्‍थापना किसी भी शुभ मुहूर्त जैसे दीपावली, धनतेरस, रविपुष्‍य, अभिजीत मुहूर्त या इसी तरह के किसी भी शुभ मुहूर्त में कर सकते हैं। 

शुक्रवार का दिन मां लक्ष्‍मी को समर्पित होता है इसलिए शुक्रवार के दिन भी आप श्री महालक्ष्‍मी यंत्र की स्‍थापना कर सकते हैं।

कैसे करें स्‍थापना

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र को अपने घर के पूजन स्‍थल में स्‍थापित करें। इसके पश्‍चात् रोज़ मंत्र का जाप करें। यंत्र को स्‍थायी रूप से अपने घर एवं कार्यस्‍थल या पूजन स्‍थल में स्‍थापित करें और रोज़ इसकी पूजा करें |

इस मंत्र का करें जाप

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र की पूजा में लक्ष्‍मी जी के इस मंत्र का जाप अवश्‍य करें। मंत्र है -:

ऊं ह्रीं ह्रीं श्रीं ह्रीं ह्रीं फट्।।

अगर आप आर्थिक तंगी से गुज़र रहे हैं और इसका ज्‍योतिषीय समाधान चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें। नीचे कमेंट बॉक्‍स में अपनी परेशानी बताएं, AstroVidhi  से अवश्‍य ही आपको समाधान मिलेगा।

हमसे क्यों लें

श्री महालक्ष्‍मी यंत्र को हमारे पंडितजी द्वारा अभिमंत्रित कर के आपके पास भेजा जाएगा जिससे आपको शीघ्र अति शीघ्र इसका पूर्ण लाभ मिल सके।

 

Reviews

Based on 0 reviews

Write a review