Subscribe Daily Horoscope

Congratulation: You successfully subscribe Daily Horoscope.
 

कमलगट्टे की माला

कमलगट्टे की माला

धन की देवी मां लक्ष्‍मी को प्रसन्‍न करने के लिए कमलगट्टे की माला सर्वोपरि है। कमल के फूलों का मां लक्ष्‍मी के पूजन में अत्‍यंत महत्‍व है अर्थात् मां लक्ष्‍मी को कमल के फूल सर्वप्रिय हैं। 

 
डिलीवरी: 3-4 दिनों में डिलीवरी
मुफ़्त शिपिंग: पूरे भारत में
फ़ोन पर ख़रीदें: +91 82852 82851
अभिमंत्रित: फ्री अभिमन्त्रण पंडित सूरज शास्त्री जी द्वारा

विवरण

मनके:अंडाकार कमल गट्टा
मनकों की संख्‍या:`95-108
मनकों का आकार (mm) :~15.5*11
उत्‍पत्ति :प्राकृतिक भारतीय कमल के बीज
लम्‍बाई (इंच में) :32

धन की देवी मां लक्ष्‍मी को प्रसन्‍न करने के लिए कमलगट्टे की माला सर्वोपरि है। कमल के फूलों का मां लक्ष्‍मी के पूजन में अत्‍यंत महत्‍व है अर्थात् मां लक्ष्‍मी को कमल के फूल सर्वप्रिय हैं। 

कमल के फूलों के बीज से बनी माला को ही कमलगट्टे की माला कहा जाता है। 

कमलगट्टे की माला के लाभ

  • कमलगट्टे की माला को धारण करने से मां लक्ष्‍मी की विशेष कृपा बरसती है। दरिद्र लोगों के लिए ये माला किसी वरदान से कम नहीं है।
  • अक्षय तृतीया, दीपावली, अक्षय नवमी के दिन इस माला से कनकधारा स्तोत्र का जप करने वाले व्‍यक्‍ति को धन लाभ के अवसर मिलते रहते हैं।
  • जो व्‍यक्‍ति कमलगट्टे की माला धारण करता है उस पर माता लक्ष्मी प्रसन्न रहती है तथा अपने भक्तों को हमेशा धन-धान्य से शोभित करती हैं।

कैसे करें प्रयोग

कमलगट्टे की माला का प्रयोग करने से पहले लक्ष्‍मी मंत्र का जाप करें। शुक्रवार के दिन इसे धारण करना उत्‍त्म रहता है।

हमसे क्‍यों लें

कमलगट्टे की माला को हमारे पंडितजी द्वारा अभिमंत्रित कर के आपके पास भेजा जाएगा जिससे आपको शीघ्र अति शीघ्र इसका पूर्ण लाभ मिल सके।

 

Reviews

Based on 1 reviews

Write a review
 

Good

Suthar Kalpesh

V good