admin

सूर्य का तुला राशि में गोचर, 17 अक्टूबर 2020 – जानिये आप पर प्रभाव

वर्ष 2020 में सूर्य 17 अक्टूबर 2020 को सुबह 06 बजकर 50 मिनिट पर कन्या राशि को छोड़कर तुला राशि में गोचर करने जा रहे हैं। 16 नवंबर 2020 को सुबह 06 बजकर 39 मिनिट तक इसी राशि में रहेंगे और उसके पश्चात वृश्चिक राशि में गोचर करेंगे। सूर्य के गोचर को ज्योतिष शास्त्र में बहुत अहम माना गया है। सूर्य प्रत्येक माह राशि परिवर्तन करता है। सूर्य के शुभ प्रभाव से व्यक्ति को सरकारी और अन्य सेवाओं में उच्च पदों की प्राप्ति होती है। सूर्य के गोचर को सूर्य संक्रांति के नाम से भी जाना जाता है,  इस तरह पूरे साल में 12 संक्रांतियां होती हैं। वैदिक ज्योतिष में मेष राशि में सूर्य उच्च का और तुला राशि में नीच का माना जाता है।

सूर्य का तुला राशि में गोचर  (17 अक्टूबर 2020  से 16 नवंबर 2020)

आइए जानते है सूर्य के इस राशि परिवर्तन का विभिन्न 12 राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

मेष राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से सप्तम भाव में गोचर कर रहा है। पेट से सम्बंधित दिक्कते हो सकती है। आपके अंदर का अहंकार आपके वैवाहिक जीवन पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है। जीवनसाथी और बच्चों की तरफ से कुछ दिक्कते हो सकती है। स्वयं का व्यवसाय करना चाहते है तो स्थिति अच्छी नहीं है। पार्टनरशिप में व्यवसाय न करे। इस गोचर में पार्टनरशिप में बिजनेस करते हैं, तो पार्टनर के साथ आपके मतभेद हो सकते हैं। यात्रा करते समय सावधानी बरतें। शत्रु परेशान कर सकते हैं। इस राशि के जातकों के बच्चों का स्वास्थ्य इस गोचर काल के दौरान नाजुक रह सकता है, जो कि आपके लिए चिंता का विषय होगा। पिता के साथ मतभेद हो सकते हैं।  

वृषभ राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से षष्ट भाव में गोचर कर रहा है। पारिवारिक जीवन में खुशियाँ आएंगी। इस गोचर में आपको शुभ समाचारों की प्राप्ति होगी। इस राशि के जो छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं उन्हें शुभ फलों की प्राप्ति होगी। स्वास्थ्य के लिहाज से देखा जाए तो यह गोचर आपके लिए अनुकूल साबित होगा, इस गोचर के दौरान किसी लंबी बीमारी से आपको छुटकारा मिल सकता है। सरकारी क्षेत्र से लाभ होगा तथा स्वास्थ्य के लिहाज से यह गोचर उत्तम बना रहेगा। शत्रु आपसे भयभीत रहेंगे। परिश्रम के आधार पर शिक्षा के क्षेत्र में सफलता मिलेगी।

मिथुन राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से पंचम भाव में गोचर कर रहा है। संतान को सेहत से सम्बंधित दिक्कते हो सकती है। जीवनसाथी को अपने करियर में अत्याधिक लाभ होगा। यात्राये हो सकती है जो आपके लिए अनुकूल नहीं होंगी।  इस गोचर के दौरान आपको वाहन सावधानी से चलना चाहिए नहीं तो दुर्घटना हो सकती है।  इस दौरान आपको सचेत रहने की आवश्यकता है, निर्णय लेने में कठिनाईयां आयेंगी। कामकाज के क्षेत्र में अपने से सीनियर्स के साथ किसी बात को लेकर दिक्कते आयेंगी। आपके स्वास्थ्य की बात की जाए आपके बाहर का तला-भुना या फास्टफूड खाने से बचना चाहिए नहीं तो पेट से संबंधी कोई समस्या या अपचन की समस्या आपको हो सकती है |

अभी महालक्ष्मी पूजा करवाएं 

कर्क राशि पर प्रभाव

सूर्य आपकी राशि से चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा है। माता को स्वास्थ्य से सम्बंधित दिक्कते हो सकती है, इसलिए सावधानी बरते। इस गोचर के दरम्यान आपको स्वास्थ्य से सम्बंधित दिक्कते आयेंगी। आप लोगों को सम्मान देते हैं और उनसे सम्मान की चाह करते हैं। हालांकि आपको यह समझना होगा कि गरिमा की भावना और घमंड में बहुत कम फासला होता है। यदि आप खेलकूद जैसे किसी कामकाज में हैं तो आपको कई अवसरों की प्राप्त हो सकती है, जिनसे करियर में आगे बढ़ने में आपको मदद मिलेगी। परिवार के साथ किसी बात को लेकर तनाव उत्पन्न हो सकता है, जिसके कारण मानसिक तनाव बढ़ सकता है। वैवाहिक जीवन में उतार-चढाव देखने को मिलेंगे।

सिंह राशि पर प्रभाव

सूर्य आपकी राशि से तृतीय भाव में गोचर कर रहा है, इस दौरान आपको अच्छे फलों की प्राप्ति होगी। मित्र एवं भाई-बहनों की तरफ से आपको रुपए-पैसे की सहायता मिलेगी। इस गोचर में इच्छा शक्ति में वृद्धि होगी। उच्च प्रतिष्ठित लोगों के साथ आपके सम्बन्ध बनेंगे। इस गोचर के दौरान की गई छोटी-छोटी यात्राएं लाभदायक होंगी। लोगों के साथ आपके मधुर सम्बन्ध स्थापित होंगे। रुके हुए काम बनेंगे। स्वास्थ्य की बात करें तो आंखों और पेट से जुड़ी समस्याएं आपको हो सकती हैं। इसलिए स्वास्थ्य को लेकर आपको सावधान रहने की जरुरत हैं।

कन्या राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से द्वितीय भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर के दौरान आपके जीवनसाथी को स्वास्थ्य से सम्बंधित दिक्कते आयेंगी। निजी तौर पर, आप छोटे मुद्दों के बहाने आक्रामक और आसानी से नाराज हो सकते हैं, जिससे आपके पारिवारिक जीवन और व्यक्तिगत संबंधों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता है, अन्यथा घर परिवार तथा मित्रों से अनबन हो सकती हैं। परिवार के लोगों के साथ समझदारी से ही व्यवहार करे। इस गोचर में आँखों से सम्बंधित दिक्कते बन सकती है। इस गोचर में स्किन सम्बन्धी समस्याएं हो सकती हैं। 

अभी ग्रह शांति माला आर्डर करें

तुला राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि में प्रथम भाव में गोचर कर रहा है। इस गोचर में आलस्य बना रहेगा, किसी काम में मन नहीं लगेगा। आपके सम्बन्ध विदेशो से हो सकते है, जिसके कारण आपको लाभ होगा। मानहानि का सामना करना पड़ सकता है, तनाव और अहंकार का सामना करना पड़ सकता है। इस गोचर के दौरान, आपके अंदर आत्मविश्वास की कमी देखी जा सकती है और इस वजह से, आप दूसरों को खुश करने की कोशिश करते नजर आएंगे। परिवार में किसी न किसी बात को लेक्ट दिक्कते बनी रहेंगी। आँखों से संबंधित दिक्कते परेशान कर सकती हैं।  खान-पान का ध्यान रखे पेट से संबंधित दिक्कते होने की सम्भावना हैं।  धन आता-जाता रहेगा।    

वृश्चिक राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से द्वादश भाव में गोचर करेगा। इस समय बुरे कामों से दूर रहे अन्यथा दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। इस समय परिवार में पिता या पितातुल्य किसी व्यक्ति से आपके मतभेद हो सकते हैं जिससे घर का माहौल खराब होगा। अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखे। खर्च की अधिकता रहेगी। किसी पहाडी क्षेत्र में यात्रा करने की सोच सकते है या फिर यात्रा हो सकती है। इस समय आपको ऐसा कोई भी काम नहीं करना चाहिए जिससे कानून का उल्लंघन हो, नहीं तो किसी बड़ी मुसीबत में पड़ सकते हैं। शत्रु आप पर हावी हो सकते है, किसी प्रकार के वाद विवाद में ना पड़े।

धनु राशि पर प्रभाव

सूर्य आपकी राशि से एकादश भाव में गोचर करेगा। पिता का सहयोग मिलेगा जो आगे तरक्की के लिए फायदेमंद साबित होगा। यह गोचर आपके लिए कई मायनों में सफलतादायक सिद्ध होगा।  इस गोचर में आपको धन लाभ होगा। सह्कर्मियो का साथ और सहयोग मिलेगा। अपने घर के बुजुर्गों का आशीर्वाद लेते रहे। उनका आदर करें फल अवश्य मिलेगा। दान-धर्म के कार्यों में आपकी रूचि बनी रहेगी। इस गोचर में धन की कमी बिल्कुल नहीं होगी।

मकर राशि पर प्रभाव

सूर्य आपकी राशि से दशम भाव में गोचर कर रहा है। हर जगह सफलता मिलेगी तथा  कामकाज में बरकत होगी, प्रमोशन की सम्भावना बढ़ रही है। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी तथा प्रभावी व्यक्तियों से मिलने का अवसर मिलेगा। इस भाव से आपके कर्म और करियर पर विचार किया जाता है। दशम भाव में सूर्य शक्तिशाली अवस्था में होता है। यह गोचर आपके लिए शुभ रहेगा।  इसके कारण आप कार्यक्षेत्र में अपने वरिष्ठों और अधिनस्थों से दो कदम आगे रहेंगे। कार्यक्षेत्र में नया पद मिलने की भी संभावना है, प्रमोशन के चांसेस ज्यादा हैं। 

अभी ग्रह शांति माला आर्डर करें

कुंभ राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से नवम भाव में गोचर कर रहा है, गलत कार्य से दूर रहे अन्यथा समाज में अपमानित होना पड़ सकता है। यह भाव भाग्य, धर्म, लंबी यात्राओं आदि का कारक है। इस भाव में सूर्य गोचर काल में आपको बहुत अच्छे फल नहीं देगा। यह गोचर आपके लिए उतार-चढाव वाला रहेगा। आरोग्य खराबी के साथ साथ मानसिक तनाव बढेगा। रुपए का लेन देन सोच समझकर करे अन्यथा दिक्कते बढ़ सकती है। अपनों से बड़ों के साथ विवाद हो सकते है। कामकाज में सफलता प्राप्त करने के लिए संघर्ष करना पड़ेगा। काम से संबंधी यात्राओं के लिए अच्छा नहीं है, आपके खर्चे हो सकते हैं और घाटा होने की भी संभावना है।

मीन राशि पर प्रभाव 

सूर्य आपकी राशि से अष्टम भाव में गोचर कर रहा है। जीवनसाथी को स्वास्थ्य से सम्बंधित दिक्कते हो सकती है, इसलिए सावधानी बरते। इस गोचर में वादविवाद की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। आर्थिक और कामकाज के रुप से देखा जाए तो यह समय चुनौतीपूर्ण रहेगा।  शत्रु परेशान कर सकते है परन्तु साहस और बल का परिचय देते हुए आप शत्रुओ से जीत सकते है। धन खर्च सोच-समझकर करे अन्यथा दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। सूर्य के गोचर के चलते ससुराल पक्ष के लोगों से आपके मतभेद हो सकते हैं जिसके कारण जीवनसाथी के साथ भी आपके संबंध खराब हो सकते हैं। वाणी पर नियन्त्रण रखें हालात खराबी की ओर इशारा कर सकते हैं।

अभी सुलेमानी हकीक अंगूठी करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here