admin

मौनी अमावस्या के दिन करवाएं पितृ दोष निवारण पूजा

वर्ष 2020 में मौनी अमावस्या यानि माघी अमावस्या को बेहद ख़ास बताया गया है। मौनी अमावस्या माघ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि के दिन पड़ती है। मौनी अमावस्या के दिन स्नान और दान का विशेष महत्व है। 

मौनी अमावस्या 2020 तिथि एवं शुभ मुहूर्त

मौनी अमावस्या शुक्रवार, 24 जनवरी

अमावस्या तिथि प्रारंभ 02:17 बजे से

अमावस्या तिथि समाप्त 25 जनवरी 03:11 बजे तक

माघ मास की यह अमावस्या शुक्रवार 24 जनवरी के दिन पड़ने से और भी ख़ास हो जाती है क्योंकि शुक्रवार को पड़नेवाली अमावस्या को सोमवती अमावस्या भी कहा जाता है। इस दिन व्रती को मौन धारण करते हुए दिन भर मुनियों सा आचरण करना पड़ता है। मौनी अमावस्या का यही सन्देश है कि इस दिन मौन व्रत धारण कर मन को संयमित किया जाए। मन में ईश्वर के नाम का स्मरण किया जाए उनका जप किया जाए तथा अपने पितरों को याद किया जाएँ।

मौनी अमावस्या माघ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि के दिन पड़ती है। मौनी अमावस्या के दिन स्नान और दान का विशेष महत्व है। 

मान्यता है कि मौनी अमावस्या के दिन अपने पितरों का तर्पण करने से पितरों की आत्मा को शांति मिलती है और उनका आशीर्वाद सदैव हमारे साथ बना रहता है।

अभी पित्र दोष निवारण पूजा करवाएं  

पितृ दोष के प्रभाव 

पितृ दोष से पीडित लोग बड़े-बुजुर्गों का अपमान करते हैं और दूसरों की भावनाओं की अवहेलना करने से भी नहीं चूकते। इन्‍हें जीवन में निरंतर धन की कमी रहती है। परिवार में लड़ाई-झगड़ा और क्‍लेश का माहौल रहता है। विवाह में देरी, संतान प्राप्‍ति में बाधा और पैसों में बरकत न होने जैसी समस्‍याएं झेलनी पड़ती हैं।

पितृ दोष निवारण पूजा के लाभ

  • यह पूजा अथवा अनुष्‍ठान कराने से आपके महत्‍वपूर्ण कार्य संपन्‍न होते हैं।
  • इस पूजा के प्रभाव से आपके जितने भी रुके हुए काम हैं वो पूरे हो जाते हैं।
  • शारीरिक और मानसिक चिंताएं दूर होती हैं। संतान सुख मिलता है।
  • नौकरी, करियर और जीवन में आ रही सभी प्रकार की बाधाएं दूर होती है।
  • पितरों का आशीर्वाद सदैव हमारे साथ बना रहता है, किसी प्रकार का भय तथा दिक्कते जीवन में नहीं आती।

अभी पित्र दोष निवारण पूजा करवाएं  

संबंधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Like और Follow करें : Astrologer on Facebook

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here