31 मार्च को इन मंत्रों से करें हनुमान जी की पूजा, दूर होगी हर परेशानी

हिंदी पंचांग के अनुसार 31 मार्च 2018 को चैत्र मास पूर्णिमा के दिन हनुमान जयंती का पर्व है। मान्‍यता है कि इस दिन हनुमान जी का जन्‍म हुआ था। संकटमोचन हनुमान जी अपने भक्‍तों के सारे कष्‍ट दूर करते हैं और उनकी कृपा से हर मनोकामना पूर्ण होती है।

अपने कष्‍टों से मुक्‍ति पाने और मनोकामना की पूर्ति हेतु 31 मार्च को हनुमान जयंती का दिन बहुत शुभ है। इस शुभ अवसर पर हनुमान जी को कुछ मंत्रों के जाप से भी प्रसन्‍न किया जा सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही चमत्‍कारिक मंत्रों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी सभी परेशानियां दूर कर देंगें।

Book Puja Online

सभी कष्‍टों से मुक्ति पाने का मंत्र

मनोजवं मारुततुल्‍यवेगम् जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्‍ठम्।

वातात्‍मजं वानरयूथमुख्‍यं श्री रामदूतं शरणं प्रपदये।।

सुख-समृद्धि का मंत्र

मर्कटेश महोत्‍साह सर्वशोक विनाशन।

शत्रून संहर मां रक्षा श्रियं दापय मे प्रभो।।

कार्यों में आ रही बाधाओं को दूर करने का मंत्र

हनुमान अंगद रन गाजे।

हांके सुनकृत रजनीचर भाजे।।

रोग से मुक्‍ति का मंत्र

नासे रोग हरे सब पीरा।

जो सुमिरै हनुमत बल बीरा।।

108 बार इस चौपाई का जाप करें।

Buy Moonga Hanuman

सौभाग्‍य की प्राप्‍ति हेतु

वायुपुत्र नमस्‍तुभ्‍यं पुष्‍पं सौवर्णकं प्रियम्।

पूजयिष्‍यामि ते मूर्धि नवरत्‍न-समुजजलम्।।

इस मंत्र का जाप करते हुए हनुमान जी को पुष्‍प भी अर्पित करें।

मंत्र जाप कैसे करें

31 मार्च के दिन सुबह जल्‍दी उठें और स्‍नान के पश्‍चात् हनुमान मंदिर जाएं। हनुमान जी के दर्शन और पूजन करें। मंदिर में किसी शांत स्‍थान पर बैठकर 108 बार इनमें से किसी भी मंत्र का जाप करें। मंत्र जाप के लिए रुद्राक्ष की माला का प्रयोग सर्वश्रेष्‍ठ रहता है।

हनुमान जयंती पर करें ये उपाय

  • पहला उपाय है घी में चुटकी भर स‌िंदूर म‌िलकार हनुमान जी को लेप लगाएं। इससे हनुमान जी अत‌ि प्रसन्न होते हैं और अपने भक्त को भय एवं बाधाओं से न‌िकाल देते हैं।
  • चुटकी भर स‌िंदूर को घी में म‌िलाकर एक कागज पर स्वास्त‌िक च‌िन्ह बनाएं और हनुमान जी हृदय से लगाकर उसे अपनी त‌िजोरी या अलमारी में रखें। इससे आपको अवश्‍य ही पैसों का लाभ होगा।

Buy Hanuman Chalisa Yantra

  • अगर किसी कन्‍या के विवाह में देरी आ रही है तो चुटकीभर स‌िंदूर ले जाकर हनुमान जी के चरणों में रख दे और शीघ्र व‌िवाह के ल‌िए हनुमान जी से प्रार्थना करें। इसके बाद स‌िंदूर का टीका अपनी मांग में लगाएं जल्दी व‌िवाह के योग बनेंगे।
  • वहीं ‘ॐ क्रां क्रीं क्रों स: भौमाय नम:’ मंत्र का एक माला जाप हनुमान जयंती व मंगलवार को करना शुभ होता है। अगर आप नया बिजनेस शुरु करने की सोच रहें हैं या अपने बिजनेस को आगे बढ़ाना चाहते हैं तो हनुमान जयंती को सिंदूरी रंग का लंगोट हनुमानजी को पहनाइए।
  • मंगलवार, शनिवार या हनुमान जयंती के दिन 11 पीपल के पत्ते लें। उनको गंगाजल से अच्छी तरह धोकर लाल चंदन से हर पत्ते पर 7 बार राम लिखें। इसके बाद हनुमान जी के मन्दिर में इन्‍हें चढ़ा आएं और वहां प्रसाद बाटें। इसके बाद जितना हो सके ‘जय जय जय हनुमान गोसाईं, कृपा करो गुरु देव की नांई’  का जाप करें। इस उपाय को गोपनीय ही रखें।

किसी भी जानकारी के लिए Call करें :  8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Like और Follow करें : Astrologer Online

31 मार्च को इन मंत्रों से करें हनुमान जी की पूजा, दूर होगी हर परेशानी
4.6 (92%) 10 votes