admin

सनस्टोन रत्न के बेमिसाल फायदे

सनस्टोन अत्याधिक शक्तिशाली रत्न हैं। सूर्य का हमारे जीवन में अत्याधिक महत्व होता हैं। सूर्य अग्नि प्रधान ग्रह है और रूबी यानि माणिक रत्न सूर्य का सबसे प्रमुख और शक्तिशाली रत्न है। सूर्य के शुभ और अशुभ होने से मानव जीवन पर अच्छा और बुरा प्रभाव पड़ता हैं, अगर आपको सूर्य के शुभ फलों की प्राप्ति करनी हैं, जीवन में सुख -शांति और अच्छा रोजगार चाहते हैं, सरकारी क्षेत्र में नौकरी चाहते हैं, तो सूर्य का रत्न पहनने की सलाह ज्योतिषाचार्यों द्वारा दी जाती हैं। परन्तु जो व्यक्ति महंगे रत्न पहनने में असमर्थ होते हैं, उनके लिए ही उपरत्न पहनने की सलाह ज्योतिषों द्वारा दी जाती हैं, इनका मूल्य मूल रत्नों के मुकाबले बहुत ही कम होता हैं, अतः जिन जातकों की कुंडली में सूर्य बलवान होने के बावजूद भी शुभ फल नहीं दे रहे, ऐसे जातकों को सूर्य ग्रह को बल प्रदान करने के लिए माणिक की जगह सनस्टोन से बनी अंगूठी धारण करने की सलाह ज्योतिषों द्वारा दी जाती हैं। यह कभी-कभी हरे, नीले और सफेद रंग का भी होता हैं परन्तु गहरा नारंगी रंग का सनस्‍टोन सबसे अच्‍छा माना जाता हैं ।

सनस्टोन माणिक का ही उपरत्न हैं। इस रत्न पर सूर्य का स्वामित्व हैं, अतः यह रत्न बहुत ही प्रभावशाली होने के साथ साथ सूर्य के दोषों से मुक्ति दिलाने में अहम भूमिका निभाता हैं। सिंह राशि के अलावा यह रत्न मीन और तुला राशि पर अधिकार रखता हैं इसलिए मीन, तुला राशि के जातकों के लिए भी यह रत्न बहुत ही फलदायी होता हैं।

सनस्टोन किस राशि के जातक धारण कर सकते हैं ?

सनस्टोन रत्न का अधिपति ग्रह सूर्य हैं और सूर्य की राशि सिंह से संबंधित हैं, इसलिए सिंह राशि के लोगों के लिए सनस्टोन धारण करना लाभदायक होता हैं। सूर्य की कृपा से जातक को हर कार्य में सफलता मिलती है, इसलिए अगर सिंह राशि के लोग जीवन में सफलता पाना चाहते हैं, मगर माणिक मँहगा होने के कारण धारण नहीं कर सकते, वह सनस्टोन धारण कर सकते हैं और यह मीन, सिंह और तुला राशि पर अधिकार रखता हैं इसलिए मीन, सिंह और तुला राशि के जातकों के लिए यह रत्न लाभकारी होता हैं ।

सनस्टोन रत्न पहनने से लाभ

  • सूर्य की तरह ही यह रत्‍न जातक को तेजवान, निडर, साहसी और ताकतवर बनाता हैं । इसे पहनने के बाद अपने आप में विश्वास बढ़ता हैं और व्यक्ति कोई भी कठिन से कठिन कार्य करने से घबराता नहीं हैं।
  • अगर नौकरी या कारोबार में व्यवधान उत्पन्न हो रहा हो तो सनस्टोन रत्न जरुर धारण करना चाहिए, ऐसा करने से नौकरी/कारोबार में लाभ होता है इसके पश्चात आपको हर कार्य में संतुष्टि के साथ सफलता मिलती हैं ।
  • सनस्टोन  धारण करने के बाद कामकाज में अशातीत सफलता मिलती हैं, उच्च पद पर आसीन लोगों को इस रत्न के  प्रभाव से लाभ होता है, मान-सम्मान की प्राप्ति होती हैं ।
  • सरकारी क्षेत्र में बार बार असफलताओं का सामना करना पड़ रहा हो तो सनस्टोन धारण करने से सरकारी कामों में सफलता मिलती हैं ।
  • आँखों की समस्याओं से परेशान हैं तो सनस्टोन धारण करने से आँखों से सम्बंधित दिक्कते काफी हद तक ख़त्म हो जाती हैं ।
  • सनस्टोन आपके अन्दर छिपी हुई हिचकिचाहट या संकोच प्रवृत्ति को ख़त्म कर निडर तथा आत्मविश्वास जागृत करता हैं ।
  • सनस्टोन के प्रभाव से मन में प्रेम भावना जागृत होती हैं एवं व्यक्ति में नेतृत्व करने के गुण आते हैं ।
  • मौसम में बदलाव के कारण होने वाली बिमारियों से बचने के लिए भी इस रत्‍न को पहनना लाभदायक होता हैं । यह रत्न धारण करने के बाद दर्द, सूजन आदि में भी काफी आराम मिलता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here