सावन के महीने में इन चीज़ों की पूजा करने से दूर होगी आर्थिक तंगी

सभी जानते हैं कि सावन का महीना भगवान शिव को समर्पित होता है। इस महीने में विशेष रूप से भगवान शिव को प्रसन्‍न करने के लिए विशेष जप और पूजन किया जाता है। सावन के सोमवार के दिन व्रत रखने से भक्‍तों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

मान्‍यता है कि सावन के महीने में ही देवी पार्वती ने भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए कठोर तप किया था। तभी से भगवान शिव ने वरदान दिया था कि जो कन्‍या सावन के सोमवार में उनका व्रत रखेगी वे उसे मनचाहे जीवनसाथ का वरदान देंगें।

सावन से कुछ दिन पूर्व ही चातुर्मास के दौरान भगवान विष्‍णु पाताल लोक में चार महीनों के लिए शयन करते हैं। इस दौरान संसार की सारी बागड़ोर भगवान शिव के हाथों में चली जाती है। इस कारण भी सावन के महीने में शिव पूजन एवं व्रत किया जाता है।

कैसे करें सावन की पूजा

वैसे तो मंदिर जाकर ही शिवलिंग की पूजा की जाती है लेकिन इसके अलावा और भी तरीके हैं जिनसे आप भगवान शिव को प्रसन्‍न कर सकते हैं। ज्‍योतिष के ऐसे कई उपाय हैं जो सावन के महीने में करने से आर्थिक लाभ के साथ-साथ सुख और समृद्धि भी प्रदान करते हैं।

तो चलिए जानते हैं इन सावन के महीने में करने वाले ज्‍योतिषीय उपायों के बारे में -:

पारद शिवलिंग

शिवपुराण के अनुसार पारा धातु को भगवान शिव का वीर्य कहा गया है।  सैकड़ों गायों के दान हज़ारों स्वर्ण मुद्राओं के दान तथा चारों तीर्थों को जो पुण्य मिलता है वह फल इसके दर्शन करने से प्राप्त हो जाता है।  सावन के महीने में पारद शिवलिंग की स्‍थापना अपने घर में करें और हर सोमवार को इसकी पूजा करें।

पारद शिवलिंग प्राप्‍त करने के लिए यहां क्‍लिक करें

महालिंगम लॉकेट

जो पुरुष अपने वैवाहिक जीवन का आनंद उठाना चाहते हैं या अपनी पौरुष शक्‍ति में इजाफा करना चाहते हैं वे सावन के महीने में महालिंगम लॉकेट धारण करें। पुरुषों की पौरुष शक्‍ति बढ़ाने में ये चमत्‍कारिक भूमिका निभाता है।

महालिंगम लॉकेट प्राप्‍त करने के लिए यहां क्‍लिक करें

रुद्राक्ष

धरती पर रुद्राक्ष के रूप भगवान शिव अपने भक्‍तों की रक्षा करते हैं। रुद्राक्ष के कई प्रकार हैं और इसे आप अपनी समस्‍या के अनुसार धारण कर सकती हैं। रुद्राक्ष किसी भी व्‍यक्‍ति को सूट कर जाता है और इसके कोई भी अशुभ प्रभाव नहीं होते हैं। सावन के महीने में शिव का आशीर्वाद पाने के लिए आपको रुद्राक्ष अवश्‍य धारण करना चाहिए।

जानें आपकी समस्‍या सुलझा सकता है कौन-सा रुद्राक्ष

रुद्राक्ष की माला

सावन के महीने में शिवजी को प्रसन्‍न करने के लिए अनेक मंत्रों का जाप भी किया जाता है। भगवान शिव के मंत्रों का जाप करने के लिए रुद्राक्ष की माला का ही प्रयोग करना चाहिए। ज्‍योतिष में रुद्राक्ष की माला को सर्वोपरि बताया गया है। आप इसे गले में भी धारण कर सकते हैं।

रुद्राक्ष की माला प्राप्‍त करने के लिए यहां क्‍लिक करें

अगर आपके जीवन में कोई समस्‍या है और चाहकर भी आपको उससे छुटकारा नहीं मिल पा रहा है तो आप अपनी समस्‍या के निवारण हेतु AstroVidhi के अनुभवी ज्‍योतिषाचार्यों से इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं -: 082852 82851