इस राखी पर सिर्फ ढाई घंटे ही है शुभ मुहूर्त, राशि अनुसार चुनें अपने भाई के लिए राखी का रंग

भाई-बहन का पवित्र त्‍योहार है रक्षाबंधन है। इस पवित्र त्‍योहार पर बहनें अपने भाई की लंबी उम्र की कामना करते हुए अपने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधती हैं। इस त्‍योहार को राखी के नाम से भी जाना जाता है।

भाई-बहन के पवित्र बंधन का त्‍योहार रक्षाबंधन इस बार भद्रा व ग्रहण के साए मेंपड़ रहा है। सावन के महीने में 7 अगस्‍त को रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाएगा। इस बार रक्षाबंधन के त्‍योहार पर ग्रहण लगने से राखी बांधने का शुभ समय सिर्फ 2 घंटे 47 मिनट ही रहेगा।

पूरे देश में खंडगास चंद्रग्रहण लगभग 2 घंटे तक दिखाई देगा। सोमवार को ग्रहण रात 10.53 पर शुरु होकर रात्रि 12.48 पर समाप्‍त होगा। वहीं ग्रहण का सूतक दोपहर 1.53 बजे शुरु हो जाएगा। शास्‍त्रों के अनुसार भद्राकाल और सूतक के दौरान भाइयों को राखी नहीं बांधी जाती है। इसलिए 7 अगस्‍त को सूतक लगने के बाद बहनें अपने भाइयों को राखी नहीं बांध सकती हैं। इस ग्रहण से पूर्व 11.05 बजे तक भद्राकाल रहेगा। भद्रकाल और सूतक शुरु होने के मध्‍य 2 घंटे 47 मिनट का शुभ समय है। इस दौरान बहनें अपने भाई को राखी बांध सकती हैं।

प्राकृतिक आपदा का खतरा

रक्षाबंधन के दिन ग्रहण के दौरान मकर राशि में चंद्रमा बैठा होगा जिस पर सूर्य की दृष्टि पड़ रही होगी एवं मंगल और इस पर नीच राशि में बैठे मंगल और शनि की कुदृष्टि पड़ रही होगी। ग्रहों का यह योग अराजकता, चोरी, लूटपाट, अपहरण और फसलों को नुकसान पहुंचाता है। लेकिन इस ग्रहण के दौरान चावल, तेल और धान्‍य में तेजी आएगी। ग्रहण के प्रकोप से यवन राष्‍ट्रों को नुकसान हो सकता है। यवन राष्‍ट्रो में प्रा‍कृतिक आपदा, आतंक का खतरा बना रहेगा। इसके अलावा पर्वतीय क्षेत्रों जैसे कश्‍मीर, भूटान और अरुणाचल प्रदेश में भी प्राकृतिक आपदाएं आ सकती हैं। राजनीति के लिए भी मुश्किल समय है। 

अपनी राशिनुसार रत्नों की अंगूठियाँ धारण करें 

य‍हां दिखेगा ग्रहण

रक्षाबंधन के दिन पड़ रहा खंडग्रास चंद्रग्रहण भारत के साथ-साथ पूरे एशिया और ऑस्‍ट्रेलिया, यूरोप, अफ्रीका, दक्षिणी अमेरिका के पश्चिमी भाग, हिंद महासागर और पेसिफिक महासागर में दिखेगा।

नौ साल बाद पर पड़ रहा है ग्रहण

इससे पहले 16 अगस्‍त, 2008 को रक्षाबंधन के त्‍योहार पर यह खंडग्रास चंदग्रहण पड़ा था। पूरे नौ साल के बाद रक्षाबंधन और चंद्रग्रहण का संयोग बन रहा है।

अब हम आपको बताते हैं कि किस राशि के भाई के लिए कौन से रंग की राखी सबसे अच्‍छी रहेगी -:

मेष राशि

इस राशि वाले भाई को केसरिया रंग की राखी बांधें। इसके अलावा आप अपने भाई को उपहार में रुद्राक्ष भी भेंट कर सकती हैं। मेष राशि पर मंगल ग्रह का प्रभाव होता है इसलिए आप अपने भाई को तीन मुखी रुद्राक्ष दे सकती हैं।

मेष राशि के अनुसार मूंगा रत्न की अंगूठी धारण करें 

वृषभ राशि

वृषभ राशि वाले जातकों के लिए नीला रंग अच्‍छा रहेगा। वृषभ राशि पर शुक्र ग्रह का प्रभाव होता है। वृषभ राशि के भाई को छह मुखी रुद्राक्ष भेंट कर सकती हैं।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के लिए हरा रंग शुभ रहेगा। मिथुन राशि का स्‍वामी बुध ग्रह है। मिथुन राशि के लोगों को चार मुखी रुद्राक्ष धारण करने से शुभ फल मिलेगा।

कर्क राशि

सफेद रंग इस राशि वाले जातकों के लिए मंगलकारी सिद्ध होगा। अपने कर्क राशि वाले भाई को दो मुखी रुद्राक्ष दें क्‍योंकि इस राशि का स्‍वामी चंद्रमा है।

सभी समस्याओं को दूर करने के लिए राशिनुसार रुद्राक्ष धारण करें 

सिंह राशि

सिंह राशि वाले भाइयों को गुलाबी रंग की राखी बांधने से उनके तरक्‍की के मार्ग प्रशस्‍त होंगें। सिंह राशि पर सूर्य का प्रभाव होता है इसलिए आप एक मुखी या बारह मुखी रुद्राक्ष अपने भाई को दें।

कन्‍या राशि

श्‍वेत रंग कन्‍या राशि वाले जातकों के लिए उत्‍तम रहेगा। कन्‍या राशि पर बुध ग्रह का प्रभाव होता है इसलिए कन्‍या राशि के लोगों को चार मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

तुला राशि

फिरोजी रंग आपके लिए मंगलकारी रहेगा। तुला राशि का स्‍वामी शुक्र ग्रह होता है इसलिए आप अपने तुला राशि के भाई को छह मुखी या तेरह मुखी रुद्राक्ष भेंट कर सकती हैं।

वृश्चिक राशि

इस राशि वाले जातकों को लाल रंग की राखी से व्‍यापार में लाभ होगा। वृश्चिक राशि पर मंगल का प्रभाव होता है। इस राशि के पुरुषों को तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

धनु राशि

आपके लिए सफेद रंग शुभ साबित होगा। धनु राशि का स्‍वामी बृहस्‍पति ग्रह होता है एवं इस राशि के लोगों को पांच मुखी रुद्राक्ष से लाभ होगा।

मकर राशि

अपने मकर राशि वाले भाई को राखी के साथ गहरे लाल रंग का कलावा बांधें। इससे उनकी आयु में वृद्धि होगी। मकर राशि पर शनि ग्रह का प्रभाव होता है। अपने भाई को शनि का शुभ प्रभाव प्राप्‍त करवाने के लिए चौदह मुखी और सात मुखी रुद्राक्ष पहनाएं।

कुंभ राशि

हरे और सफेद रंग की राखी इनके लिए शुभ है। कुंभ राशि पर शनि ग्रह का प्रभाव होता है। अपने भाई को शनि का शुभ प्रभाव प्राप्‍त करवाने के लिए चौदह मुखी और सात मुखी रुद्राक्ष पहनाएं।

मीन राशि

पीला रंग आपको हर तरह से फायदा पहुंचाएगा। मीन राशि का स्‍वामी बृहस्‍पति ग्रह होता है एवं इस राशि के लोगों को पांच मुखी रुद्राक्ष से लाभ होगा।

अपने भाई के मंगलमय भविष्‍य के लिए रक्षाबंधन के दिन आप उसकी कलाई पर अभिमंत्रित रक्षा सूत्र भी बांध सकती हैं। अपने भाई की राशि से संबंधित ग्रह के मंत्रों द्वारा अभिमंत्रित राखी प्राप्‍त करने के लिए इस नंबर पर संपर्क करें – 82852 82851। इसके अलावा आप अभिमंत्रित रुद्राक्ष भी AstroVidhi.com से प्राप्‍त कर सकते हैं।

अपनी फ्री जन्म कुण्डली निकालें 

रक्षाबंधन के शुभ मुहूर्त के बारे में और उसके उपाय के बारे जानने के लिए देखें ये विडियो