Acharya Raman

मंगल का कुम्भ में गोचर फल ११ दिसंबर १६ – २० जनवरी १७

मंगल का गोचर

11 दिसबर 2016 को मंगल ग्रह मकर से कुंभ राशि में प्रवेश करने वाला है। इस गोचर की महत्‍वपूर्ण बात ये है कि यहां मंगल-केतु ये युति करेगा अर्थात दोनों साथ होंगे। गोचर के शुरू में दोनों एक दूसरे से 13 डिग्री दूर होंगे लेकिन दिसंबर माह के अंत समय तक ये दोनों एकदम करीब आ जाएंगे और इनका अंतर केवल 3 डिग्री रह जाएगा।

ज्‍योतिषीय दृष्‍टि से यह बहुत महत्‍वपूर्ण गोचर है और इस दौरान मंगल और केतु की महादशा और अंतर दशा से गुजर रहे जातकों को कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है। आइए देखते हैं मंगल के इस गोचर का विभिन्‍न राशि के जातकों पर पड़ने वाला प्रभाव क्‍या होगा:

मेष:

आपको अपने ही मित्र या घर के बड़ें लोगों से धोखा मिल सकता है। अचानक कोई आर्थिक नुकसान होना भी संभव है। आप जितनी गति से आपके पास धन आएगा उससे दोगुनी गति से धन जाएगा भी। इसलिए खर्चों पर आपको विशेष ध्‍यान रखना है। आपके दाहिने हाथ या कंधे पर चोट लग सकती है। कानों में समस्‍या बनी रहेगी। जीवन साथी के साथ रिश्‍ते मधुर नहीं होंगे। गुप्‍त रोग होने की संभावना भी बनी हुई है।

 खुद जानें अपने करियर का हाल

वृषभ:

कार्य क्षेत्र में कुछ परेशानियां आएंगी। आपके करियर के आगे बढ़ता देखकर आपके अपने ही आपसे जलेंगे। यह भी संभव है कि इसी कारण आपको लोगों की कई कूटनीतिक चालों का सामना करना पड़ें। आपके लिए बेहतर होगा कि न तो अधिपत्‍य जमाने की कोशिश करें और न ही किसी को नीचा दिखाने की। इसलिए जरूरी की कि आप अपने क्रोध पर काबू कीजिए और जितना हो सके चीजो को प्‍यार से निपटाइए। परिवार का कोई सदस्‍य हार्ट अटैक, लंग या स्‍वास लेने में परेशानी का सामना करेंगे।

 जानें अपने आने वाले साल का भविष्‍य

मिथुन:

धनार्जन के लिए कुछ अनैतिक रास्‍तों पर चलेंगे। वर्तमान समय में भारत में तो यह संभव नहीं है लेकिन इस राशि के दूसरे लोग जो कहीं और हैं गलत रास्‍तों से पैसे कमाएंगें। भाग्‍य आपको साथ इस गोचर के दौरान देने वाला नही है। रीढ़ की हड्डी में काफी परेशानी हो सकती है। अच्‍छे डॉक्‍टर की सलाह अवश्‍य लें। छोटी यात्राओं की संभावना है किन्‍तु सावधान रहें ये यात्राएं आपको कुछ नुकसान पहुंचा सकती हैं।

अभी लें बिजनेस रिपोर्ट और चमकाएं अपना व्‍यापार

कर्क:

इस गोचर के कारण अगर कोई सबसे ज्‍यादा परेशान होगा तो वो कर्क राशि के जातक हैं। मंगल और केतु की युति आठवें भाव में हो रही है जो कि बहुत बुरे परिणाम देता है। आपको बहुत सावधान रहने की जरूरत है अगर आपकी जन्‍म कुंडली में मंगल, राहू या केतु में किसी की अंतरदशा या महा दशा चल रही हो तो। आप सड़क पर या बड़ी मशीनरी के आस-पास आएं तो सावधान रहें क्‍योंकि इस दौरान कोई बड़ी दुर्घटना होना भी संभव है।

 खुद जानें अपने करियर का हाल

 सिंह:

मंगल का यह गोचर सिंह राशि के जातकों के वैवाहिक जीवन में उथल-पुथल लेकर आ रहा है क्‍योंकि आपके सातवें घर में मंगल और केतु की युति हो रही है। यह गोचर आपके बिजनेस रिलेशन के लिए भी अच्‍छा नहीं है। सिंह राशि आपको घमंड देती है और मंगल का यह गोचर आपके घमंड को और बढ़ाएगा जिससे किसी से भी टकरार होना संभव है। आप किसी को बहुत बुरी तरह से प्रताडि़त करेंगे या गैरकानूनी ढंग से किसी पुरानी बात का बदला लेंगे। यौन रोग होने के आसार भी प्रबल हैं। आप किसी ऐसी स्‍त्री से संबंध बनाएंगें जो उम्र में आपसे बडी होगी।

लाल किताब के उपायों से संवारें अपना भविष्‍य

कन्‍या:

कन्‍या राशि‍ वालों के लिए मंगल सबसे ज्‍यादा हानि पहुंचाने वाला ग्रह है। आठवें भाव का स्‍वामी होकर मंगल केतु के साथ आपके छठवें भाव में बैठा है। अपनी खाने की आदतों पर ध्‍यान दें। थोड़ी भी दिक्‍कत आने पर उसे नजरअंदाज न करें तुरंत डॉक्‍टर की सलाह लें। कोई बड़ी इन्‍वेस्‍टमेंट न करे और न ही वर्तमान नौकरी छोड़ने के बारे में विचार करें। एसिडिटी और पेट संबंधी दूसरी समस्‍याओं से परेशान रहेंगे।

जानें अपने आने वाले साल का भविष्‍य

तुला:

कम्‍युनिकेशन की कमी के कारण साथी के साथ मनमुटाव की स्थिति आ सकती है। जीवन साथी से किसी भी चीज के लिए बहस न करें। पेट में किसी कारण से गंभीर दर्द बना रह सकता है। कुछ जातकों को इसे नजरअंदाज करने पर अस्‍पताल में भर्ती भी होना पड़ सकता है। जंक फूट को अलविदा कहने का सही समय आ चुका है। जुआं सट्टे में निश्‍चित ही हानि होगी। इसलिए अच्‍छा होगा कि आप धन किस्‍मत से कमाने की कोशिश ही न करें।

लाल किताब के उपायों से संवारें अपना भविष्‍य

वृश्‍चिक:

मंगल और केतु की युति चौथे घर में हो रही है। इस भाव में यह युति आपको अचल संपत्‍त‍ि के कारण थोड़ा परेशान करेगी। कोर्ट में चल रहे मुकदमों में परेशानी होगी साथ ही कमीशन एजेंट आपको ठगने में कामयाब हो सकते हैं। घर में किसी बड़े को सांसों से संबंधित परेशानी हो सकती है। यात्रा के दौरान पिता की सेहत का विशेष ध्‍यान रखें।

अभी लें बिजनेस रिपोर्ट और चमकाएं अपना व्‍यापार

धनु:

ऐसे जातक जो मीडिया, न्‍यूज, प्रिंटिंग, पब्‍लिशिंग, खेल और टूर एंड ट्रेवल के बिजनेस में हैं उन्‍हें थोड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। करियर में आ रही ये गिरावट कुछ महत्‍वपूर्ण चीजों को नजरअंदाज करने के कारण आएगी। कई ऐसे भी मौके आएंगे जब कोई दूसरा आपको मिलने वाले अवसर को आपसे पहले ही लपक लेगा। दाहिने कंधे में डिस्‍लोकेशन, हेयरलाइन फ्रेक्‍चर या छोटी मोटी इंजरी हो सकती है। कभी-कभी पैर कांपने की शिकायत भी हो सकती है।

जानें अपने आने वाले साल का भविष्‍य

मकर:

मंगल आपकी कुंडली में 11वें भाव का स्‍वामी है। ज्‍योतिष में इस बात को अच्‍छा माना जाता है जब 11वें भाव का स्‍वामी दूसरे भाव में जाकर बैठे। लेकिन इस बार केतु के साथ युति होने के कारण यह उल्‍टे प्रभाव देने वाला है। आर्थिक मामलें और उलझते नजर आएंगे। सेहत में भी कुछ उतार-चढ़ाव होगा किन्‍तु तुरंत डॉक्‍टर से उपचार कराएं। किसी भी व्‍यक्‍ति पर आंख बंद करके भरोसा न करें। इस दौरान कहीं भी इन्‍वेस्‍ट करने से बचें।

खुद जानें अपने करियर का हाल

 कुंभ: 

आपके लग्‍न में मंगल और केतु की यह युति बन रही है जो कहीं से भी लाभ देने वाली नहीं है। आपके साथ छोटी बड़ी कैसी भी दुर्घनाएं हो सकती है जोकि पूर्ण रूप से आपकी जन्‍म कुंडली में ग्रहों की स्‍थिति पर निर्भर करेगी। किसी से उलझें नहीं और गुस्‍से से खुद को दूर रखें नहीं तो कोई बड़ा नुकसान उठाना पढ़ सकता है। माथे या आंखों में दर्द भी इस गोचर के दौरान होगा। किस्‍मत इस माह आपका साथ नहीं देगी इसलिए 30 जनवरी तक कोई बड़ा काम न करें और समय को बस ऐसे ही गुजर जाने दें।

अभी लें गुरु गोचर रिपोर्ट

मीन:

किस्‍मत का साथ कम ही रहेगा। आपकी कोशिशों का आपको फल तो मिलेगा लेकिन इतना कम की आप सटिस्‍फाइड नहीं होंगे। आपको नींद नहीं आने की बीमारी इस गोचर में भी पहले जैसी ही रहेगी साथ ही बुरे सपने भी आएंगे। नींद की गोलियां न लें। खर्चें बढ़ेंगे लेकिन ऐसी चीजें खरीदेंगे जो भविष्‍य में काम नहीं आएंगे। अपने खर्चे में संयम रखें और सादगी पूर्ण जीवन बिताएं।

By Acharya Raman

सरकारी नौकरी चाहते हैं तो यहां पूरी हो सकती है आपकी ये मनोकामना

मंगल का कुम्भ में गोचर फल ११ दिसंबर १६ – २० जनवरी १७
Rate this post